दीपिका पादुकोण के पिता और पूर्व बैडमिंटन चेनियन प्रकाश पादुकोण कोरोनाटेटिव, बैंगलोर

By | May 4, 2021



<पी शैली ="पाठ-संरेखित करें: औचित्य;"> मुंबई: विश्व विख्यात बैंडितन खिलाड़ी रहे और होने-मानी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के पिता प्रकाश पादुकोण को कोरोना से ग्रस्त होने के बाद बुरुू के भगवान महावीर जैन अस्पताल में दाखिल कराया गया है। & nbsp; <पी शैली ="पाठ-संरेखित करें: औचित्य;"> एक करीबी सूत्र ने एबीपी न्यूज़ से इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि उन्हें कुछ ही दिन पहले अस्पताल में दाखिल कराया गया था और वर्तमान में तबीयत पहले से बेहतर है। सूत्र का कहना अच्छी तरह से होता है सेहत के मद्देनजर उन्हें उसी सप्ताह अस्पताल से डिस्चार्ज मिलने की उम्मीद है।

एबीपी न्यूज को इस बात की भी जानकारी मिली है कि दीपिका पादुकोण के पिता प्रकाश पादुकोण के अलावा उनकी मांज्वला पादुकोण और बहन अनीषा पादुकोण में भी कोरोना के लक्षण पाए गए थे, लेकिन वे दोनों वर्तमान में ठीक हैं और दोनों घर पर ही हैं।

बता दें प्रकाश पादुकोण ने हाल ही में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली थी और उन्हें दूसरी डोज का इंताजर था, लेकिन इससे पहले ही वे कोरोना से धम हो गए, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है।

शैली ="पाठ-संरेखित करें: औचित्य;"> उल्लेखनीय है कि 65 वर्ष के पूर्व बंदमिटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण को 1980 में विश्व की पहली रैंकिंग हासिल हुई थी। उसी वर्ष उन्होंने ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप का खिताब भी जीता था। ये खिताब जीतने वाले वे पहले भारतीय खिलाड़ी थे। इतना ही नहीं, 1978 में कनाडा में हुए कॉमन वेल्थ गेम्स में प्रकाश पादुकोण ने बंदमिटन के सिंगल्स की तुलना में गोल्ड मेडल हासिल किया था। विश्व बंदमिटन के क्षेत्र में प्रकाश पादुकोण की उपलब्धियों की फेहरिस्त काफी लम्बी है।

="पाठ-संरेखित करें: औचित्य;"> गौरतलब है कि 1972 में उन्हें प्रतिष्ठित खेल पुरस्कार अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा गया था। इसके अलावा भारत सरकार की ओर से उन्हें 1982 में पद्मश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *